Indian Digital Currency Launch जाने कैसे करें Digital Rupee Currency का उपयोग , कहां से और कैसे म‍िलेगा ड‍िजि‍टल रुपया? 5 Big Details 

Indian Digital Currency Launch जाने कैसे करें Digital Rupee Currency का उपयोग , कहां से और कैसे म‍िलेगा ड‍िजि‍टल रुपया? 5 Big Details

Indian Digital Currency Launch : भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 1 दिसंबर, 2022 से खुदरा डिजिटल रुपया लॉन्च किया। इसे शुरू में पायलट प्रोजेक्ट पर लॉन्च किया गया था। पायलट का मतलब है कि इसे पहले चुनिंदा शहरों में लॉन्च किया गया था। इसके बाद इसका दायरा बढ़ गया। शुरुआत में डिजिटल रुपया मुंबई, नई दिल्ली, बेंगलुरु और भुवनेश्वर में लॉन्च किया गया था। इसके बाद अहमदाबाद, गंगटोक, गुवाहाटी, हैदराबाद, इंदौर, कोच्चि, लखनऊ, पटना और शिमला जैसे शहरों में भी डिजिटल रुपया पेश किया जा रहा है।

इसे CBDC का रूप दिया , CBDC या डिजिटल रुपया भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी मुद्रा नोटों का डिजिटल रूप है। यह करेंसी नोटों की तरह पूरी तरह से कानूनी और वैध है। जिसका उपयोग सभी प्रकार के लेन-देन के लिए किया जा सकता है। क्योंकि इसे आरबीआई ने ही जारी किया है। आरबीआई ने डिजिटल करेंसी को दो श्रेणियों में बांटा है। CBDC-W और CBDC-R. CBDC-W का मतलब थोक मुद्रा और सीबीडीसी-आर का मतलब खुदरा मुद्रा है।

यह एक कानूनी निविदा है, जिसे किसी भी कानूनी लेनदेन के लिए स्वीकार किया जाएगा। डिजिटल रुपया ब्लॉकचेन तकनीक पर आधारित होगा, यह एक सुरक्षित और पारदर्शी वितरण प्रणाली है। डिजिटल रुपया या ई-रुपया नोटों और सिक्कों का डिजिटल या इलेक्ट्रॉनिक संस्करण है। बाजार में ई-रुपया आने के बाद आपको अपनी जेब में सिक्के रखने की जरूरत नहीं है।

कैसे ले सकेंगे ड‍िज‍िटल रुपया

डिजिटल रुपया खोने की कोई चिंता नहीं है और न ही दुकानदार को पूरी तरह से बदलाव देने की चिंता होगी। अगर आपके मन में भी यही सवाल है कि डिजिटल रुपया कैसे लिया जाए तो इसके लिए आपको ‘डिजिटल रुपे ऐप’ डाउनलोड करना होगा। इसे आप गूगल प्ले स्टोर या आईओएस प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। अब आप पायलट बैंक, मोबाइल वॉलेट या किसी अन्य डिजिटल भुगतान सेवा प्रदाता से डिजिटल रुपया वॉलेट प्राप्त कर सकते हैं। जब आपके पास डिजिटल रुपया वॉलेट होता है तो आप किसी भी बैंक या वित्तीय संस्थान से डिजिटल पैसा ले सकते हैं।

Indian Digital Currency Launch जाने  ई-रुपये के क्या फायदे होने वाले हैं? 

आप छोटी और बड़ी खरीदारी के लिए Digital Rupee Currency का उपयोग कर सकते हैं। इसका मतलब है कि आप इसे दूध, सब्जियों और अन्य दैनिक खरीद के लिए भी उपयोग कर सकते हैं। किसी अनजान व्यक्ति को जानकारी साझा करने की जरूरत नहीं होगी। आपकी गोपनीयता बनाए रखी जाएगी। कैश ले जाने की जरूरत नहीं होगी। सरकार को फायदा यह होगा कि फिजिकल मनी छापने का खर्च कम हो जाएगा। डिजिटल इकोनॉमी की दिशा में सरकार का यह एक बड़ा कदम होगा। बैंक आसानी से डिजिटल रुपये को पैसे और कैश में बदल सकेंगे। विदेश में अपने दोस्तों, रिश्तेदारों को पैसे भेजने में आसानी होगी और खर्चे भी कम होंगे। ई रुपिया बिना इंटरनेट कनेक्शन के भी काम करेगा।

Digital Rupee Currency
Digital Rupee Currency

UPI और Digital Rupee Currency में क्या अंतर?

रिजर्व बैंक की इस Digital Rupee Currency को सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी (सीबीडीसी) नाम दिया गया है। लेकिन डिजिटल रुपये का नाम सुनते ही आपके मन में सवाल आएगा कि हमने पेटीएम, गूगल-पे और फोनपे का क्या किया? वास्तव में, एक अंतर है। आज के समय में हम किसी भी दुकान पर सभी तरह के ई-वॉलेट से यूपीआई का इस्तेमाल कर पेमेंट करते हैं, लेकिन इसे डिजिटल करेंसी नहीं कहा जा सकता है।

Indian Digital Currency Launch
Indian Digital Currency Launch

क्योंकि यूपीआई के जरिए ट्रांसफर होने वाला पैसा फिजिकल करेंसी के जरिए ही चलता है। यानी यूपीआई पेमेंट सीधे बैंक अकाउंट से बैंक अकाउंट में किया जाता है। लेकिन डिजिटल रुपया अपने आप में एक लीनियर पेमेंट होगा, जिसका इस्तेमाल करेंसी की जगह डिजिटल पेमेंट के लिए किया जा सकेगा। यानी जैसे आप अपने वॉलेट से पैसे निकालते थे, वैसे ही अकाउंट का उससे कोई लेना-देना नहीं था। इसी तरह आप ई-वॉलेट से डिजिटल पैसा देंगे और बैंक अकाउंट से काम नहीं चलेगा।

Digital Rupee
Digital Rupee

जाने कैसे करें Digital Rupee Currency का उपयोग

Digital Rupee Currency के जरिए शॉपिंग करना या किसी भी तरह का पेमेंट करना और प्राप्त करना दोनों ही आसान है। इसे अपने वॉलेट में डालने के बाद आप किसी भी यूपीआई क्यूआर कोड पर देश भर में किसी भी व्यक्तिगत व्यापारी के साथ लेनदेन करने की सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। आपके द्वारा किया गया भुगतान व्यापारी को तुरंत प्राप्त होगा। इतना ही नहीं, व्यापारी बिना किसी शुल्क के तुरंत सीबीडीसी में भुगतान भी प्राप्त कर सकते हैं। नकदी की तुलना में डिजिटल रुपया अधिक सुरक्षित है। इससे ट्रांजैक्शन कॉस्ट में भी कमी आएगी।

ReadMore ….

Leave a Comment

x