Hit And Run New Law 2024: सरकार ने वापस ले लिया कानून, जाने अंदर की बात? Big News

Hit And Run New Law 2024: सरकार ने वापस ले लिया कानून, जाने अंदर की बात?

Hit And Run New Law 2024: भारतीय सड़कों पर हिट एंड रन के बढ़ते मामलों के बीच सरकार ने एक नया कानून पेश किया है जिसमें इस तरह की घटनाओं पर कड़ी कार्रवाई का प्रावधान है। हिट एंड रन नए कानून का उद्देश्य सड़क सुरक्षा को बढ़ाना और लापरवाह ड्राइवरों पर नकेल कसना है। हालांकि, इस कानून ने ट्रक और बस ड्राइवरों के बीच बहुत विवाद पैदा किया है। और आज के इस लेख में हम विस्तार से जानेंगे कि आखिर यह कानून है क्या और इसका ट्रक ड्राइवर और आम जनता पर क्या असर होगा।

सरकार ने हाल ही में एक बयान जारी किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि वे अभी इस कानून को लागू नहीं करेंगे और हिट एंड रन न्यू लॉ सिंह फ्रॉम एवरीथिंग में कुछ समय के लिए देरी हुई है। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने मंगलवार को इंडिया मोटर इंडिया मोटर से ‘हिट एंड रन’ मामलों से संबंधित नए दंडात्मक प्रावधान को लागू करने के लिए कहा। ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी)

गृह सचिव भल्ला ने एआईएमटीसी और सभी आंदोलनकारी ट्रक चालकों से काम पर लौटने की अपील की। तो ऐसे में आप सभी के लिए ये जानना जरूरी है कि अगर इस नए कानून को वापस किया जाता है तो ये सही नहीं है तो कुछ बदलाव क्या होंगे और इसका आप पर क्या असर होगा।

हिट एंड रन नए कानून की मुख्य बातें

भारतीय न्याय संहिता के तहत नए कानून के अनुसार, यदि कोई चालक लापरवाही से गाड़ी चलाने से किसी व्यक्ति की मौत का कारण बनता है और उसे सूचित किए बिना घटना स्थल से भाग जाता है, तो उसे दस साल तक की कैद और/ या ₹ 7-10 लाख तक का जुर्माना हो सकता है। इससे पहले, ब्रिटिश काल की भारतीय दंड संहिता में हिट एंड रन मामलों के लिए कोई विशिष्ट प्रावधान नहीं था, और ऐसे मामलों में अधिकतम दो साल की सजा या जुर्माना हो सकता था।

नए बनाम पुराने कानून

कारकपुराना कानून (IPC)नया कानून (भारतीय न्याय संहिता)
सजा की अवधिअधिकतम 2 वर्षअधिकतम 10 वर्ष
जुर्मानासीमित₹7-10 लाख तक
घटना की रिपोर्टिंगअनिवार्य नहींअनिवार्य

ट्रक चालकों का विरोध और उनकी मुख्य चिंताएं

पूरे भारत में ट्रक ड्राइवरों ने हिट एंड रन न्यू लॉ के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया है। उनका मुख्य तर्क यह है कि इस कानून से उनके रोजगार के लिए

Hit And Run New Law
Hit And Run New Law

जोखिम बढ़ जाएगा और मामूली गलतियों के लिए भी कठोर सजा हो सकती है। इसके अलावा, उनका यह भी विचार है कि कानून का दुरुपयोग किया जा सकता है।

सरकारी प्रतिक्रिया और आगे की दिशा

सरकार ने इस विषय पर ट्रक चालकों से संवाद किया है और उनकी चिंताओं को सुना है। इस वार्ता का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि हिट एंड रन न्यू लॉ का उद्देश्य केवल सड़क सुरक्षा को बढ़ाना है न कि इसका अनुचित उपयोग।

हिट एंड रन नए कानून का समाज पर प्रभाव

नया कानून सड़क सुरक्षा के लिहाज से एक अहम कदम है, लेकिन समाज पर इसके असर को लेकर विवाद है। एक तरफ यह कानून लापरवाही से गाड़ी चलाने के खिलाफ कड़ा संदेश देता है, वहीं दूसरी तरफ इसके संभावित दुरुपयोग को लेकर भी चिंता जताई जा रही है। इस कानून का गलत तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है और निर्दोष वाहन चालकों को भी फंसाया जा सकता है। खैर, इन सभी बातों पर अभी चर्चा होनी बाकी है और तमाम विचार-विमर्श के बाद ही सरकार इसे लागू या हटा सकती है।

मुख्य बिंदु

  • नए कानून में 10 साल की जेल और 7-10 लाख रुपये के जुर्माने का प्रस्ताव है।
  • ट्रक ड्राइवरों द्वारा व्यापक विरोध प्रदर्शन।
  • सरकार और ड्राइवरों के बीच बातचीत जारी।
  • सड़क सुरक्षा और समाज पर प्रभाव।

भारतीय न्याय संहिता का महत्व

भारतीय न्याय संहिता भारतीय दंड प्रणाली में एक ऐतिहासिक बदलाव है, जिसमें अपराधों और उनकी सजा को आधुनिक भारत की जरूरतों के अनुरूप अद्यतन किया गया है।

Important Link

Official Website
Click Here
Join TelegarmClick Here
Home PageClick Here

निष्कर्ष- Hit And Run New Law

दोस्तों यह थी आज की Hit And Run New Law के बारें में सम्पूर्ण जानकारी इस पोस्ट में आपको Hit And Run New Law इसकी सम्पूर्ण जानकारी बताने कोशिश की गयी है |

ताकि आपके Hit And Run New Law से जुडी जितने भी सारे सवालो है, उन सारे सवालो का जवाब इस आर्टिकल में मिल सके |

तो दोस्तों कैसी लगी आज की यह जानकारी, आप हमें Comment box में बताना ना भूले, और यदि इस आर्टिकल से जुडी आपके पास कोई सवाल या किसी प्रकार का सुझाव हो तो हमें जरुर बताएं

और इस पोस्ट से मिलने वाली जानकारी अपने दोस्तों के साथ भी Social Media Sites जैसे- Facebook, twitter पर ज़रुर शेयर करें |

ताकि उन लोगो तक भी यह जानकारी पहुच सके जिन्हें Hit And Run New Law की जानकारी का लाभ उन्हें भी मिल सके|

Leave a Comment

x